Gantantra Diwas Par Bhashan (Speech) 2020 – गणतंत्र दिवस Nibandh (Essay), Kavita, Shayari In Hindi

Gantantra Diwas Par Bhashan (Speech): Get 26 Jan गणतंत्र दिवस पर भाषण, हिंदी निबंध, Gantantra Diwas Nibandh (Essay) In Hindi, Kavita, Image, Shayari from this Republic Day Website. 26 January or Republic day or Gantantra Diwas is India’s national occasion. Every year on the same date(26 of Jan), it celebrates in all over India. In the nation’s schools, colleges and assemblies national festival is celebrated jointly with lots of fun, joy, entertaining activities, etc.

The first month of the year that is January in Hindi it is called “Mah” month, in this month a lots of Hindu festivals are observed like Makar Sankranti, Lori, etc. besides these festivals one more occasion is taking place in this month that is “Republic Day” or India’s national festivals. Its celebrate year once. One largest ceremony of republic day is taking place in New Delhi. Where India’s Prime Minister hoists National Tiranga at 8 AM, and begin the republic day ceremony. If you want Gantantra Diwas Par Bhashan In Hindi and any other language. Then visit this site and get Gantantra Diwas Ki Shayari for your friends and wish them in the best way.

Hindi meaning of republic day is “Gantantra Bharat”. Before 1950 India follow British lows, 1950 was the year when Indians become republic countries with a handwritten constitution. Since then every people of India become free for own rights, the public start to follow India’s lows. Dr. B.R Ambedkar was the writer of the India constitution, he was one of the great men or leaders or fighter of India who written the India constitution in two languages (Hindi & English) approx in three years.

Here we updated Gantantra Diwas Kavita, Gantantra Diwas Par Bhashan For all school kids. Concurrently India’s constitution becomes the world’s biggest constitution which is written in Hindi and English both language. After freedom or 15-8-1947, republic day or 1-1-1950 was the second highly happiest moment or achievement of India. Because after the independence war India become independence but the government of the British clutch was not removed in India, it was removed in 1950 from India. Check below given Gantantra Diwas Par Bhashan and गणतंत्र दिवस पर निबंध, Kavita Lines

Gantantra Diwas Par Bhashan (Speech) 2020 | गणतंत्र दिवस भाषण

School students, kids who want best Gantantra Diwas Par Bhashan and गणतंत्र दिवस भाषण, 26 January Speech In Hindi Langauge, they all will get the Bhashan Lines from this article. It’s true that the India constitution was sketched in November 1949 but adopted on 1st January 1950. Here one question is arrive that is when India’s constitution was sketched in 1949 then why it celebrated on 1 Jan?

The answer to this question- Before freedom fight against British Raj, India’s great leaders were celebrated “Purna Swaraj Diwas” on the 26th of January. That’s the accurate answer to this question. Now this year in 2018 we are going to celebrate the 71st anniversary of “Swatantrata Diwas” or “India’s Republic Day”.

On this anniversary take oath or resolution for country safety, country growth, etc. Republic day is a day that comes to the remembrance of how India become an independent republic country, how many painful moments was come in India or in the front of India leaders or the general public. Get Best Gantantra Diwas Speech In Hindi and share this गणतंत्र दिवस भाषण, republic Day Speech with your friends, classmates, and teachers

Check Here>>>>> Republic Day 2020 Amazon Sale


गणतंत्र दिवस पर भाषण

आदरणीय प्रधानाध्यापक, मेरे शिक्षकगण, मेरे वरिष्ठ और सहपाठीयों को मेरा नमस्कार। आज हम यहाँ गणतंत्र दिवस मानाने के लिए एकत्रित हुए हैं। तोह अब में आप सभी के सामने गणतंत्र दिवस पर भाषण देने जा रहा हूँ और आप सभी को इस दिवस के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें बताने जा रहा हूँ। आज हम सभी यहाँ 71वां गणतंत्र दिवस मानाने के लिए एकत्रित हुए हैं। बहुत संगर्ष के बाद 1947 में ब्रिटिश शासन से हमारे देश को आज़ादी मिली। अंग्रेजों से आज़ादी के बाद भी भारत एक स्व-शासित देश नहीं था। इसके बाद 1950 में हमारा सविंधान लागू हुआ उसके बाद हमारा देश भारत एक स्व-शासित देश बना।

1947 में भारत को आजादी मिली और पूरे २ साल ६ महीने बाद जब हमारा सविंधान लागू हुआ तोह गणतंत्र दिवस मनाने की शुरुआत 26 जनवरी 1950 से हुई। तब से हम हर वर्ष 26 जनवरी को अपना गणतंत्र दिवस मनाते आ रहें हैं क्योंकि इसी दिन भारत का संविधान अस्तित्व में आया था। भारत एक लोकतांत्रिक देश है और इस देश में रहने वाले हर भारतीय नागरिक के पास सामान अधिकार हैं। हर भारतीय को अपने देश का प्रधानमंत्री, राज्यमंत्री चुनने का हक़ है। देश को सही दिशा में नेतृत्व प्रदान करने के लिये हमें अपना प्रधानमंत्री चुनने का ह़क है।

देश के पक्ष में हमारे नेताओं को प्रभुत्वशाली प्रकृति का होना चाहिये और देश के नेताओं को देश के बारे में सोचना चाहिए न की अपने भले के लिए। अगर देश की जनता ने आपको बनाया है तोह जनता आपको गिरा भी सकती है अगर आप देश के विकास के बारे में नहीं सोचते हो तोह। हर अधिकारी को नियमों और नियंत्रकों को सही तरीके से अनुसरण करना चाहिए। देश को एक भष्ट्राचार मुक्त देश बनाने के लिये सभी अधिकारियों को भारतीय नियमों का अनुगमन करना चाहिये और देश की सेवा अच्छे से करना चाहिए। हमारे देश के नेताओं को अपने देश के पक्ष में सोचने के लिये पर्याप्त दक्षता होनी चाहिये। देश के सभी राज्यों, गाँवों और शहरों के बारे में उसको एक बराबर सोचना चाहिये जिससे धर्म, गरीब, अमीर, उच्च वर्ग, मध्यम वर्ग, निम्न वर्ग, अशिक्षा आदि के बिना किसी भेदभाव के भारत एक अच्छा विकसित देश बन सके।

“विविधता में एकता” के साथ केवल एक भष्टाचार मुक्त भारत ही वास्तविक और सच्चा देश होगा। हम अपने स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने देंगे और हम सब मिलकर अपने देश को एक अच्छे राह पे लेके चलेंगे। भारतीय नागरिक होने के नाते, हम भी अपने देश के प्रति पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। हमें अपने आपको नियमित बनाना चाहिये, नियमों का पालन करना चाहिए और देश में होने वाली घटनाओं के प्रति जागरुक रहना चाहिए। अगर आपके आस पास कुछ भी गलत हो रहा है तोह आप इसका विरोध करें, साफ़ सफाई का ध्यान रखें और देश को एक विकसित देश बनाने में भागीदार बनें।

जैसा की आप सभी जानते हो 1947 से पहले हमारा देश ब्रिटिश शासन के तहत एक गुलाम देश था जिसे हमारे हजारों स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों के द्वारा बहुत वर्षों के संर्घषों के बाद आजादी प्राप्त हुई। इसलिये, हमें सभी बहुमूल्य बलिदानों को व्यर्थ नहीं जाने देना चाहिये और फिर से इसे भ्रष्टाचार, अशिक्षा, असमानता और दूसरे सामाजिक भेदभाव का गुलाम नहीं बनने देना है।

आज का दिन सबसे बेहतर दिन है जब हमें अपने देश के वास्तविक अर्थ, स्थिति, प्रतिष्ठा और सबसे जरुरी मानवता की संस्कृति को संरक्षित करने के लिये प्रतिज्ञा करनी चाहिये। हमें इस देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना है और जितना हो सके अपने देश के लिए कुछ न कुछ सहयोग देना चाहिए। उम्मीद है यह भाषण आपके स्पीच के लिए काम आएगा। अगर आप भी अपने विचार हमारे साथ शेयर करना चाहते हैं तोह आप हमें अपना भाषण लिख के भेज सकते हैं अगर हमें आपका भाषण अच्छा लगेगा तोह हम आपके भाषण को इस वेबसाइट में लोगों के साथ साझा करेंगे।

धन्यवाद, जय हिन्द, जय भारत।


26 Jan Gantantra Diwas Par Nibandh (Essay) | गणतंत्र दिवस पर निबंध हिंदी में 

In this section, you will get Gantantra Diwas Par Nibandh, 26 January Essay, and गणतंत्र दिवस पर निबंध. Republic day is a day that celebrates most in educational environments such as primary, upper primary schools, PG colleges, institutes, Universities and so many other educational branches like coaching centers and tuition points. The principal of the school passes the order for the preparation of republic day before a month or 15th day.

Teachers take the responsibility for the whole ceremonial function of republic day and they gear up the kids, children, students for the excellent function. The student feels happy to perform on the stage of republic day function. For their programs kinds prepare poems, kids dance, etc children prepare a song, sloganeering and dance and elder students prepare speeches and anchoring script to take care of the whole show of 26th January.

The overall arrangement of nation events is managed by remembering all things(how they start and how they close). All school students who are going to participate in the Republic Day Nibandh Competition or Speech programs, they all will get here गणतंत्र दिवस हिंदी निबंध.


गणतंत्र दिवस निबंध

परिचय:

हर साल, हम 26 जनवरी को भारत में हमारे गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। इसी दिन, 1950 में, भारतीय स्वतंत्रता के बाद, हमारा संविधान लागू हुआ था। भारत को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित किया गया। भले ही भारत के पूर्ण और स्वतंत्र संविधान का मसौदा तैयार किया गया था और भारतीय स्वतंत्रता के तुरंत बाद प्रस्तुत किया गया था, यह 26 जनवरी, 1950 को ही हुआ था, भारत सरकार ने ‘पूर्णसराज’ आंदोलन के तहत मॉडल को अपनाया था। 26 जनवरी को भारतीय गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

समारोह:

भारत में गणतंत्र दिवस पूरे देश में उत्साह के साथ और बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। हालांकि, सभी सबसे खुशियों के उत्सव शो नई दिल्ली में होते हैं, जो भारत की राजधानी है। एक परेड आयोजित की जाती है, जिसमें सभी क्षेत्रों के लोग राजपथ पर लाल किले में इकट्ठा होते हैं, जहाँ भारत के राष्ट्रपति सलामी लेते हैं और तिरंगा झंडा फहराते हैं।

इसके अतिरिक्त, विजय चौक से एक और जुलूस शुरू होता है। यहां, रक्षा बलों, सेना, नौसेना और वायु सेना के सभी विंग गोला-बारूद, टैंकरों और बड़ी तोपों के विभिन्न प्रदर्शनों के साथ भाग लेंगे। बैंड भी कई तरह की धुनें बजाते हैं। इन बहादुर लोगों के साथ, N.C.C कैडेट और पुलिस भी भाग लेंगे और परेड में अपना प्रदर्शन करेंगे

एक झांकी परेड का अनुसरण करेगी जहां विभिन्न राज्यों के लोग अपनी प्रतिभा दिखाते हैं। यह शो पूरे देश में कई तरह के रीति-रिवाजों की सच्ची तस्वीर पेश करता है। लोगों को देखने के लिए लोक नृत्य, वाद्ययंत्र और अन्य प्रकार के मनोरंजन भी आयोजित किए जाते हैं।

निष्कर्ष:

भारत में गणतंत्र दिवस एक राजपत्रित सार्वजनिक अवकाश है और पूरे भारत में लोग देशभक्ति और आनंद की महान भावना के साथ गणतंत्र दिवस मनाते हैं।


Gantantra Diwas Par Kavita In Hindi For Kids Students

This national holiday festival is celebrated officially and unofficial in both manners. Government sectors celebrate it as officially and Nongovernment sectors are celebrated in an unofficial manner. Republic day is the most essential day of India which is necessary to celebrate. This day is celebrated to the remembrance of these days who achieved after most hard struggle.

India becomes independent republic country in 1950, it’s really very congratulated day of India which celebrates brilliantly year by year with lots of happiness and joy. Independence as much as necessary for India, republic Bharat equally important for India. Country leaders such as PM, CM, etc celebrate national events as their duty. On this day they give a motivational and inspirational speech for the public of India.

National festivals of India are festivals of whole Indians even if they belong in any religion or cast. All students and teachers will get here 26 January Gantantra Diwas Kavita, Poem Lines For their Republic Day Programs.


सबसे प्यारा सबसे न्यारा
है जग में गणतंत्र हमारा,
अपने निर्मित कानूनों से
हमने अपना भाग्य सँवारा।
संविधान देता है हमको
गौरव से जीने के अवसर,
सभी जनों में समरसता के
भाव यही भरता है सुन्दर।
सबको अपने विश्वासों के
पालन की आजादी देता,
राष्ट्र एकता का यह रक्षक
विश्व शांति का रहा प्रणेता।
लिखित विशाल रूप है इसका
प्रभुसत्ता का पूर्ण प्रदायक,
न्याय बन्धुता लोकतंत्र का
संविधान यह रहा विधायक।
बढ़े देश उन्नति के पथ पर
चाहे थे इसके निर्माता,
आजादी के संघर्षों की
आज हमें यह याद दिलाता।
सिखा रहा गणतंत्र दिवस यह
संविधान का ही अनुशासन,
देशभक्ति के जिससे हरदम
रहें भाव जनमन में पावन।

*******– सुरेश चन्द्र “सर्वहारा”


Also, Check>>>> Republic Day Wishes and Republic Day Poem

Happy Gantantra Diwas Image 2020 गणतंत्र दिवस Images, Photo Download

Republic day is also called Gantantra Diwas in Hindi. Gantantra divas or republic day is India’s festival which observes every 26th of January. Republic day is famous as a national holiday on this day Indians celebrate their freedom with honor, passion, and enthusiasm. Because its a national festival so it observed by anycast, community, religion/ denomination of people.

26/ January/ 1950 was a day month and year, on this day India was declared a full republic. India’s first republic day ceremony was done in 1950, now this year we are going to celebrate the 71st anniversary of India republic day.

26 January Image
26 January Image
26 January Images HD
26 January Images HD
26 January Images
26 January Images
26 January Photos
26 January Photos
Gantantra Diwas Bhashan
Gantantra Diwas Bhashan
Gantantra Diwas Par Bhashan
Gantantra Diwas Par Bhashan

Download More >>>>> 26 January Image

Gantantra Diwas Ki Shayari Hindi Main For Facebook Whastapp Friends

I hope you like the collection of Shayari Images and Gantantra Diwas Ki Shayari In your own traditional language. Share this collection of Gantantra Diwas Speech, Bhasan, Images, Shayari, Kavita, and other stuff with your Facebook, Whatsapp, Google Plus, Twitter and social networking friends.
I wish you all guys a very Happy Republic Day 2020 and hope you all celebrate this day with a great and wonderful way. Thanks to all of you, Jai Hind, Jai Bharat.
error: Content is protected !!